B.Ed क्या होता है? B.Ed कैसे करें? पूरी जानकारी हिंदी में

B.ed Kya Hota Hai? B.ed Kaise Kare? B.ed Karne Ke Baad Kya Hota Hai? आज इस पोस्ट में आपको इन्ही सवालो के जवाब जानने को मिलेगा. आपने कहीं इसके बारे में जरुर सुना होगा. लेकिन आपको इसके बारे में अच्छे से पता नही है तो आप इस पोस्ट को last तक जरुर पढ़िए. हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी बताने वाले हैं.

bed kya hai bed college bed kaise kare

भारत में प्राचीन काल से ही शिक्षक को एक बहुत ऊँचा दर्जा दिया जाता है. शिक्षक ही बच्चो के बेहतर चरित्र का निर्माण करता है, जिससे हमारा समाज आगे बढ़ता है. हमारे देश को उन्नति दिलाने में शिक्षकों का एक बहुत महत्वपूर्ण योगदान रहा है.

शिक्षक को हमारे समाज में हमेशा से सम्मान दिया जाता है. क्योकि ये किसी बच्चे को पढ़ा लिखा कर उसके आने वाले भविष्य को उज्जवल बनाने का कार्य करता है. ऐसे में बहुत से लोगों का सपना होता है की वो भी आगे चलाकर एक अच्छा शिक्षक बन पाए.

B.ed Course Kaise Kare ? in Hindi

अगर आपको भी पढ़ाने में मज़ा आता है और आप आगे चलाकर टीचिंग प्रोफेशन में ही आना चाहते हैं तो यह पोस्ट आपके लिए ही है. आज हम आपको B.ed के बारे में बताने वाले हैं. यह कोर्स टीचिंग के फील्ड आने के लिए ही होता है. अगर आप भी एक अच्छा शिक्षक बनना चाहते हैं तो आप B.ed कर सकते हैं.

आज में आपको बताने वाला हूँ की B.ed क्या है और B.ed कैसे करें? तो अगर आपको इसके बारे में पता नही है तो निचे ध्यान से पढ़िए. ताकि आपको इससे सम्बन्धित कोई भी confusion न हो. तो चलिए इसके बारे में जानते हैं.

B.ed का Fullform क्या है?

B.Ed का Fullform होता है “Bachelor Of Education” इसके नाम से ही पता चला रहा है की ये digree शिक्षा के फील्ड में जाने के लिए होता है. चलिए हम इसके बारे में विस्तार से बात करते हैं.

B.Ed क्या होता है? What is B.Ed

यह कोर्स उन लोगों के लिए होता है जो teaching के profession में आना चाहते हैं. अगर आप भी आगे चल एक अच्छा शिक्षक बनना चाहते है तो यह कोर्स आप कर सकते हो. इससे आप किसी अच्छे सरकारी या फिर प्राइवेट स्कूल में आसानी से जॉब ले सकते हो.

इस कोर्स को करने के लिए सबसे पहले कैंडिडेट को entrance exam देना होता है, इसको पास करने के बाद फिर काउंसलिंग की जाती है. काउंसलिंग में कैंडिडेट को rank के अनुसार कॉलेज मिलते हैं.

See also  News Reporter कैसे बनें? पत्रकार बनने की पूरी प्रक्रिया जाने

कुछ कॉलेजों में ग्रेजुएशन के result के आधार पर भी B.Ed में एडमिशन दिया जाता है. वही कॉलेजों में B.Ed में एडमिशन के लिए कॉलेज के द्वारा entrance exam का आयोजन किया जाता है. अब हम इस कोर्स को करने के लिए eligibility के बारे में बात करते हैं.

B.Ed करने के लिए योग्यताएं  (Eligibilities for B.Ed):

बीएड में एडमिशन लेने के लिए बैचलर ऑफ़ आर्ट्स (बीए), बैचलर ऑफ़ साइंस (बीएससी) या बैचलर ऑफ़ कॉमर्स (बीकॉम) और ग्रेजुएशन में कम से कम 50% मार्क्स चाहिए. जबही आप एक B.Ed एक अच्छे कॉलेज से कर सकते हो.

बीएड करने के फायदे:

  • अगर आप टीचिंग में अपना career बनाना चाहते हो तो यह आपके लिए सबसे best course है.
  • बीएड करने के बाद आप किसी भी सरकारी या गैर-सरकारी स्कूल में पढ़ा सकते हो.
  • बीएड करने के बाद आप दूसरों को शिक्षित करेंगे, जिससे आपको अपना भी experience और ज्ञान बढ़ा सकते हो.
  • अगर आप एक सरकारी शिक्षक बनना चाहते हो तो यह कोर्स आपके लिए बहुत उपयोगी हो सकता है.

बीएड कैसे करे? B.Ed Kaise Kare in Hindi (B.Ed Admission 2020)

यह सवाल अभ्यार्थियों के मन में सबसे पहले आती है की बीएड कैसे कर सकते हैं. तो चलिए हम आपको इसके बारे में स्टेप वाइज बता रहे है. हम आपको यहाँ पर निचले स्तर से बता रहे हैं ताकि आपको समझने में आसानी हो.

1. किसी भी विषय से 12वीं पास करें और ग्रेजुएशन करें

सबसे पहले में आपको बता दूँ की अगर आप अभी 10वीं की परीक्षा पास ही किये हो और सोच रहे हो की बीएड के लिए कौन सा विषय लेना चाहिए? तो में आपको बता दूँ की इसको करने के लिए कोई निर्धारित विषय नही है. आप किसी भी stream से बीएड कर सकते हो.

लेकिन में आपको सलाह दूंगा की आपको जिस चीज को पढ़ाने में मज़ा आता है 12वीं में वही विषय रखें. जैसे अगर आपको आगे चलकर maths का टीचर बनना है तो आप 12वीं क्लास में science (PCM) रख सकते हो. इसी तरह आप चाहो तो Arts भी रख सकते हो.

12वीं की परीक्षा पास करने के बाद graduation की परीक्षा भी पास करना होगा. इसमें भी आप अपने पसंद के हिसाब से विषय को चुन सकते हो. यानि आपको आगे चल कर जिस subject का टीचर बनना है उसी subject से ग्रेजुएशन भी कर लेंगे.

See also  Song Writer कैसे बने? Lyrics Writer बनने की पूरी जाकारी

ध्यान रहे की ग्रेजुएशन में आपको मन लगाकर पढाई करना होगा. क्योकि बीएड करने के लिए ग्रेजुएशन में कम से कम 50% marks होना बहुत जरुरी है.

2. B.Ed का Entrance पास करके अछे कॉलेज में काउंसलिंग करें

जैसे ही आप ग्रेजुएशन कर लेंगे, फिर बीएड में प्रवेश करने के लिए सबसे पहले आपको इसका entrance exam पास करना होगा. इससे पहले आपको ये बता दे की इसमें प्रवेश करने के लिए ग्रेजुएशन में कम से कम 50% अंक होना जरुरी है.

इसके एंट्रेंस एग्जाम को देने के बाद आपको काउंसलिंग के लिए apply करना होगा. फिर आपको आपके ranking के हिसाब से सरकारी या फिर प्राइवेट कॉलेज मिलेगा. अगर आप अच्छा से मेहनत करेंगे और आपका base मजबूत होगा तो आप इसमें अच्छी रैंकिंग प्राप्त करके सरकारी कॉलेज में एडमिशन ले सकते हो.

सरकारी कॉलेज में एडमिशन मिलने का सबसे बड़ा फायदा ये है की इसमें आपको फीस कम लगेगा और पढाई भी अच्छी होगी. हर चीज के लिए आपको कम पैसे लग्नेगे. लेकिन अगर आपका काउंसलिंग किसी प्राइवेट कॉलेज में होता है तो इसकी फीस बहुत high होती है. जिससे आपको काफी ज्यादा पैसे खर्च करना पर सकता है.

इसलिए में आपसे बहुत की अगर आप B.Ed अच्छे करना चाहते हो तो पहले इसके entrance exam के लिए मेहनत से तयारी करनी होगी फिर आप किसी अच्छे कॉलेज से बीएड कर पाएंगे.

कॉलेज में एडमिशन लेने के बाद ये कोर्स 2 साल में complete होगा. पहले इस कोर्स की अवधि 1 साल थी लेकिन अभी इसको बाधा दिया गया है.

बीएड करने के बाद क्या करें?

यदि आपने बीएड कर लिया है और आप नौकरी की तलाश कर रहे हैं तो में आपको बता देता हूँ की अब आपको नौकरी करने के लिए बी.एड करने के बाद TGT और PGT के through नौकरी प्राप्त कर सकते हैं. यदि आपके बीएड में कम से कम 50% हैं और बीए, बीकॉम, बीएससी या ग्रेजुएशन level की परीक्षा में भी कम से कम 50% अंक प्राप्त है तो आप ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर (TGT) के जरिये से कक्षा 1 से लेकर 10 तक का अध्यापन कर सकते हैं.

आपको बता दें की वर्ष 2011 के बाद सरकार ने शिक्षण स्टार को बेहतर बनाने के लिए बीएड के साथ साथ TET (Teacher Ability Test) की परीक्षा को भी उत्तीर्ण करना अनिवार्य कर दिया है. इसका मतलब ये है की बीएड करने के बाद आपको एक बेहतर शिक्षक बनने के लिए TET की परीक्षा को पास करना जरुरी होता है. इसको पास करने के बाद आप सरकारी शिक्षक बन सकते हो. सरकारी शिक्षक बनने के बाद आपका वेतन 2.5 लाख से 4 लाख प्रतिवर्ष वेतन मिल सकता है.

नोट: आपको बता दे की उत्तर प्रादेश में TET के बाद भी 60 अंक की लिखित परीक्षा अनिवार्य कर दिया गया है. जिसको पास करने के बाद ही आप सरकारी शिक्षक बन सकते हो.

बीएड करने की फीस:

आप में से ज्यादातर लोगों के मन में ये सवाल जरुर आया होगा की बीएड करने के लिए कितना फीस देना होगा. तो में आपको बता दूँ की बीएड करने के लिए हर कॉलेज का फीस structure अलग अलग है. और इसके फीस में regular बदलाव भी होते रहते हैं.

See also  Ethical Hacker कैसे बने? Ethical Hacking Course की पूरी जानकारी

अगर आप बीएड regular कारते हैं तो उसके लिए फीस अलग है और अगर आप distance से करते हैं तो उसके लिए भी फीस अलग है. रेगुलर कक्षाओं के लिए बीएड का फीस लगभग 50,000 – 70,000 तक है. और distance वालों के लिए फीस कम है.

अगर आप बीएड के entrance में अच्छा rank प्राप्त कर लेते हो तो आपको सरकारी संस्थान भी मिल सकता है. सरकारी संस्थानों में बीएड का फीस स्ट्रक्चर बहुत कम है. उदाहरण के लिए हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में बीएड के लिए 32,000 प्रतिवर्ष शुल्क लगता है. वीर कुंवर सिंह यूनिवर्सिटी ने बीएड के लिए 16,500 प्रतिवर्ष शुल्क लगता है. जबकि केरल में सभी प्राइवेट कॉलेजों में 29,000 शुल्क है.

निष्कर्ष,

उम्मीद है दोस्तों, अब आपको पता चल गया होगा की बीएड कैसे करे? बीएड करने के बाद क्या कारें? इस पोस्ट में आपको ऐसी और भी बहुत सी जानकारी मिली होगी. अगर आपको इससे सम्बन्धित कोई सवाल पूछना है तो आप हमें निचे comment करके बता सकते हैं.

पोस्ट अच्छा लगे तो इसे share कीजिये अपने दोस्तों और जानने वालों के साथ ताकि हमारा मनोबल बढे और हम आपके लिए इसी तरह की पोस्ट आगे भी लाते रहें. हमारे ब्लॉग की नई पोस्ट को miss नही करना चाहते है तो newsletter से join जरुर करें. और हमारे ब्लॉग में आते रहिये.

Like the post?

Also read more related articles on BloggingHindi.com Sharing Is Caring.. ♥️

Sharing Is Caring...

2 thoughts on “B.Ed क्या होता है? B.Ed कैसे करें? पूरी जानकारी हिंदी में”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

×