Hinglish VS Hindi – Which one is Better with Advantages

मेने ऐसे बहुत से लोगों को देखा है जो की शुरुआत में ही गलत discission ले लेते है और बाद में वो बहुत पछताते हैं. अगर आप भी एक नया ब्लॉगर हो और अगर आप अभी गलत discission ले लोगे तो आपको बाद में इसको सुधारने के लिए बहुत मेहनत करनी होगी. जब आप अभी से एक अच्छा discission ले लेते हो तो आपको बाद में दिक्कत नहीं होगा. आज हम इस पोस्ट में एक ऐसी topic पर बात करने वाले है जिसके बारे में आज कल बहुत चर्चाएँ हो रही है.

Hindi vs hinglish dono me kaun jyada better hai With is best

अभी कुछ में कुछ दिनों से देख रहा हूँ की आज कल लोग इसका चर्चा बहुत हो रही है की ब्लॉग हिंदी में लिखें या Hinghlish !!! इसीलिए मेने सोचा की इसके लिए एक पोस्ट ही लिख देता हूँ. में इस पोस्ट में आपको details से बताऊँगा की Hindi VS Hinglish किस language में Article लिखें. I sure, की आप इस पोस्ट को पढ़ने और समझने के बाद एक अच्छी discission ले पाओगे।

जिस तरह लोग दिन प्रतिदिन internet से जुड़ते जा रहे है और इसकी वजह से internet की popularity भी बढ़ती जा रही है. India में भी लोग इससे जुड़ रहे हैं और इसी कारण से Google अभी Indian visitors को भी support कर रहे हैं और इसके लिए नए नए futures को launch कर रहे हैं. अब से Google अपने Voice future को सुधार रहे है और इसमें Hindi language भी add किया जायेगा.

इसमें भारतीय के लिए एक और future add किया है और वो है की अगर आप Google में Hinghlish में लिख कर search करोगे तो गूगल automatic filter करके आपको Hindi language का result Index करेगा. यह एक बहुत अच्छा future है. गूगल ने ये भी announcement किया है की अभी वो Hindi language पर ध्यान देने वाले है और हिंदी भाषा के लिए वो बहुत से नए futures को भी launch करेंगे।

See also  Mene Blog Ki Loading Speed Ko Fast Kaise Kiya?

में आप सभी को एक बात बताना चाहता हूँ की जब आप किसी चीज पर आपको सफलता मिलेगी तो सिर्फ आपका ही नाम ऊँचा नहीं होगा बल्कि आपके नाम के साथ साथ आपके खानदान का और देश का भी नाम ऊँचा होगा. अगर आप ब्लॉगिंग ही कर रहे हो तो अगर आप इसमें सफलता पा लोगे तो आपके साथ साथ पुरे हिन्दुस्तान हो सफलता मिलेगा. इसीलिए आपको Blogging बहुत सोच समझ कर करना चाहिए।

मेने बहुत लोगों को ये कहते हुए भी सुना है की हिंदी फॉन्ट के कंटेंट वाले ब्लॉग में Adsense की CPC बहुत कम होती है. यह सच है की हिंदी ब्लॉग में हम Adsense से English ब्लॉग की तरह नहीं कमा सकते हैं. लेकिन अब कुछ ही समय में Google Adsense team हिंदी ब्लॉग में भी Hinglish ब्लॉग की तरह CPC देंगे. इससे हिंदी ब्लॉग में भी अच्छी कमाई हो पायेगी. अगर आपका ब्लॉग Hinglish में है तो अभी उसकी Adsense CPC अच्छी होगी लेकिन जब Google Adsense हिंदी ब्लॉग को ज्यादा CPC देने लगेंगे तो Hinglish Blog की CPC low हो सकती है.

अगर आपको अब भी इसके बारे में अच्छे से नही पता हुआ है तो चलिए अब हम निचे आपको दोनों Languages के Advantages को बता रहे हैं. इन एडवांटेज को जानने के बाद आपको दोनों में difference बहुत अच्छी जनकारी हो जाती है.

Advantages of Hinglish Language Blog

  1. Mostly, लोग गूगल में Hinglish में search करते हैं. इसीलिए अगर आप Hinglish में post लिखोगे तो आपका post गूगल में अच्छे स्थान पर रहेगा।
  2. Hinglish post लिखते time automatic Keywords add हो जाते हैं.
  3. Hinghlish Content लिखने पर आपके ब्लॉग में Organic traffic भी बहुत आएगा।
  4. Hinglish Blog में Adsense की CPC अच्छी रहती है. इसीलिए Hinglish ब्लॉग में हिंदी ब्लॉग के मुकाबले ज्यादा कमाई होती है.
  5. Hinglish post लिखने में हिंदी post के मुकाबले में ज्यादा time लगता है।
  6. जब हम अपने Post को Hindi में लिखते हैं तो उसका Title Hinglish ने लिखते हैं लेकिन Google में Title हिंदी फॉन्ट में हो जाते है. इसका मतलब की Google Hinglish को हिंदी समझता है।
  7. Hinglish में English alphabets का use किया जाता है जिससे गूगल कभी कभी hinglish content को english समझ कर उसको Organic countries में index हो जाते है.
  8. मेने अभी तक जितने hinglish blogs को देखे है सबकी traffic high होती है।
  9. बहुत से लोगों का यह कहना है की hinglish content ज्यादा fresh दीखता है हिंदी Content के मुकाबले में।
See also  Blog Ke Liye Perfect Content Writer Choose Karne Ke Liye 7 Tips

Advantages of Hindi Language content

  1. जब आपका content हिंदी में रहेगा तो ये गूगल Indian traffic को filter करके आपके ब्लॉग को result में लाएगा.
  2. जब आप आपके ब्लॉग में हिंदी कंटेंट होंगे और आपको सफलता मिलेगी तो आप पर पुरे देश को नाज होगा. क्योकि आपका ब्लॉग हिंदुस्तान की मातृ भाषा हिंदी में होगा.
  3. Mostly, हिंदी ब्लॉगर अपने Post में कही कही पर English word use करते है. आप चाहो तो इस जगह Keyword का use करके अपने पोस्ट को top पर दिखा सकते हो।
  4. अभी गूगल हिंदी blogs को ज्यादा support कर रहा है hinglish के मुकाबले में. कुछ समय बाद गूगल में Hinglish ब्लॉग का value बहुत कम हो जयेगा और हिंदी का ज्यादा हो जायेगा.
  5. अब Google Voice speaking फ्यूचर को बढ़ावा दे रही है और अब आप इसमें हिंदी में भी बोल का उसका परिणाम देख सकते हो।
  6. लोग गूगल में Hinglish में search करना पसंद करते हैं लेकिन हिंदी फॉन्ट में पोस्ट पढ़ना पसंद करते है.
  7. अगर आपका ब्लॉग अपना देश की official language Hindi में होगा तो पुरे भारत के लोगो को आप पर गर्व होगा।
  8. Hindi Blog से अभी हम Adsense से ज्यादा कमाई नहीं कर सकते है Hinglish blog के मुकाबले में. लेकिन कुछ समय बाद Adsense team hindi को भी support करेगा।
  9. Hinglish ब्लॉग के मुकाबले में हिंदी ब्लॉग की SEO बहुत कम होती है. अगर आप हिंदी ब्लॉग में SEO optimize करना चाहते हो तो better होगा की post में कही कही Keyword use करें।
  10. पहले हिंदी भाषा typing करना बहुत कठिन था लेकिन अब ये Hinglish से भी ज्यादा सरल हो गया है।
See also  Viral Blog Post Likhne Ke Liye 6 Secrets

Discussion

जिस तरह मेने आपको ऊपर में Hindi और Hinglish दोनों भाषाओँ की Advantages को बताया है. अब में उम्मीद करता हूँ की आपको ये सब पढ़ने के बाद एक अच्छा discussion लेने में आसानी होगी. अभी में finally बता देता हूँ की अगर आप मुझसे पूछोगे की दोनों में कौन better रहेगा तो मेरा उत्तर यही होगा की हिंदी फॉन्ट में content लिखना ज्यादा बेहतर होगा. क्योकि सबसे पहली बात तो ये है की यह हमारे National language है. जब हमारे देश की official language की blog को सफलता मिलेगा तो इससे हमारा देश और महान होगा. आप News website, Government website में गए होंगे और अपने देखा होगा की वहाँ पर English या फिर हिंदी में articles होंगे। इसीलिए आप ये आपको decide करना है की किस language को choose करें.


में उम्मीद करता हूँ की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा और अपने इस पोस्ट की सहायता से एक अच्छी discission ले ली होगी। अगर आपको इस पोस्ट से सम्बंधित कोई प्रश्न पूछना है तो आप हमें comment कर सकते हो। इस पोस्ट को social media में share कीजिए।

Like the post?

Also read more related articles on BloggingHindi.com Sharing Is Caring.. ♥️

Sharing Is Caring...

2 thoughts on “Hinglish VS Hindi – Which one is Better with Advantages”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

×