WordPress Use Karne Ke Fayde Aur Nuksan (Pros And Cons)

इसमे कोई शक नही है कि wordpress पूरे world wide में सबसे popular site engine है. इसके अलावा भी बहुत सारे cms हैं लेकिन सबसे best इसे ही माना जाता है. हम इस post में आपको WordPress के फायदे और नुकसान (Pros and Cons) के बारे में बताएंगे. यदि आप एक wordpress user हो या इसमे ब्लॉग बनाना चाहते हो तो इस post last पढ़िए. इसको पढ़ने के बाद आपको इस सवाल का जवाब मिल जाएगा कि “WordPress में ब्लॉग क्यों बनाएँ?”

WordPress pros and cons

आज से कुछ साल पहले एक normal आदमी अपना site नही बना पाते थे. परंतु आज देखता हूँ कि कोई भी आसानी से अपना ब्लॉग बना लेते हैं. पहले site बनाने लिए html, css, php, javascript का अच्छा खासा knowledge होना बहुत जरूरी होता था. लेकिन अभी कोई भी किसी CMS के द्वारा आसानी से अपना ब्लॉग बना लेते हैं. इनका सबसे ज्यादा credit WordPress, Blogger जैसे CMS के owner दिया जाता है. उन्ही के बदौलत आज कोई भी बिना coding knowledge के अपना website बना लेते हैं।

आज सभी को पता होगा कि WordPress का first look 2003 में ही देखने को मिला था लेकिन उस समय इसमे बहुत कम features थे. इसके 10 साल बाद 2013 में इसका version 3.1 release हुआ था. इसके बाद से यह लोगों के दिल मे उतर गया है और तभी से लोग इसे support करते रहे हैं और इसकी popularity दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है.

आप WordPress की popularity का अंदाजा इसी बात से लगा सकते हो तो की आज से 5 साल पहले के report के मुताबिक अगर कोई top 100 blogs का list है तो उसमें 52% blogs wordpress platform में ही होगा. आप जानते हो कि हर दिन हजारों लोग अपना ब्लॉग wordpress पर बनाते हैं. इसलिए अभी भी इसकी popularity दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है।

See also  WordPress Blog Ke Database Ka Manually Backup Lene Ke 2 Tarike

Actually, अभी भी बहुत से लोग नही जानते होंगे कि wordpress किस चिड़िया का नाम है? तो यह post उन्ही पर based है. जिसमे हम आपको WordPress के Advantages and Disadvantages के बारे में बताएंगे. इससे आप जान पाएंगे आप जो features चाहते हो, वो इसमे है या नही। अगर simple में कहें तो आपको पता चल पाएगा कि क्या wordpress आपके लिए perfect है या नही?

WordPress क्या है?

WordPress एक web software है जो ब्लॉग और website दोनों बनाने के लिए use किया जा सकता है. जैसे कि companies भी WordPress को अपने content management system के रूप में चुन सकते हैं. इसमे सबसे अधिक php और MySQL का use किया गया है।

WordPress.org एक free cms है लेकिन इसको use करने के लिए आपको hosting और domain खुद से purchase करना होगा. आप इसके through बहुत सारे तरह के website या blog बना सकते हो. यह अभी सबसे ज्यादा popularBlogging platform है. जितने भी professional bloggers हैं वोइसे ही use करते हैं. क्योंकि इसको manage करना बहुत आसान है और जिसे coding की knowledge नही है वो भी आसानी से manage कर पाता है।

Advantages and Disadvantages of using WordPress.

अब हम आपको wordpress में ब्लॉग बनाने के फायदे और नुकसान बताने वाले हैं. अगर आप भी wordpress में अपना ब्लॉग बनाने जा रहे हो तो इन्हें ध्यान से पढ़िए और सोच समझ कर फैसला लीजिए।

Pros of using WordPress:

Open Source: इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि यह एक open source cms है जो बिल्कुल free है. इसे पहले सिर्फ ब्लॉग में use करने के लिए ही बनाया गया था लेकिन इसे websites में content management system के रूप में use किया जाता है. आप codes को modify और distribute भी कर सकते हो और इडमे आपको licence fees की टेंशन नही लेना होगा।

See also  WordPress Me AMP Kaise Setup Kare [Complete Guide]

Low Cost: में मानता हूँ कि wordpress में ब्लॉग बनाने के लिए 10000₹ तक लग जाते हैं लेकिन एक हिसाब से ये बहुत ज्यादा नही है. क्योंकि यदि आप किसी developer से website बनवाते हो या किसी other paid cms choose करते हो तो आपको 30000₹ से 50000₹ तक लग सकते हैं।

Easy to Use: WordPress install करने और use करने के लिए आपको developer बनने की जरूरत नही है. आप without coding knowledge के भी wordpress site को आसानी से manage कर सकते हो. इसमे आप plugin की सहायता से कोई भी काम आसानी से कर सकते हो।

Search Engine Optimization (SEO) Benefits: ज्यादातर search engine जैसे गूगल wordpress sites को ज्यादा like करते हैं. क्योंकि wordpress site में seo meta और बहुत से seo optimization पहले से किये होते हैं और उन्हें errors का सामना नही करना पड़ता है।

Lots of sites use WordPress: आप अपनेआस पास खुद देखते होंगे कि जितने भी popular blogs हैं, वो wordpress पर ही है. आपको ये भी बता दे कि हाल ही के report के मुताबिक 74.6 million sites WordPress ही use कर रहा है.

Updates: WordPress का new version लगभग हर 152 days पर आता है लेकिन इसके अंदर ही आ जाता है. WordPress ब्लॉग में जितने भी popular plugins और themes है, regular update होते रहते है. इससे site की performance के साथ security भी strong हो जाती है।

Plugins and More Options: सबसे पहली बात तो wordpress आपको unlimited features मिलेंगे. अगर आपको developing की knowledge नही है तो आपके लिए limited features ही available है. यदि आपको developing की knowledge है तो plugin का use करके भी unlimited features access कर सकते हो।

See also  WordPress Me HTTP Request Ki Number Kam Karke Fast Banaye

Cons of Using WordPress:

Security: सबसे बड़ा disadvantage यही है कि इसकी security weak है. लेकिन जो होशियार ब्लॉगर होते है और अपने ब्लॉग को किसी तरह secure कर ही लेते हैं. WordPress vulnerable source के themes और plugins को भी support करता है. इसलिए बहुत सारे hacker इसका फायदा उठा लेते हैं।

Low Database Handling Capacity: बहुत सारे wordpress experts का ये भी मानना है कि wordpress database को ठीक तरह से handle नही कर पाता है. इसके लिए बहुत बार reported भी किया गया है और अभी wordpress team इसको optimize करने में ध्यान दे रहे हैं।

Without Updated Plugin/Themes: मेने बहुत बार देखा है कि wordpress directory में अभी भी बहुत सारे ऐसे plugins और themes हैं जो 2 साल से update नही हुआ है और उसे हजारों लोग use करते हैं. आपको पता ही होगा कि ऐसे plugin और theme का use करने से ब्लॉग की performance down हो जाती है।

Conclusion,
WordPress एक great platform है ब्लॉग बनाने के लिए. यदि आप अभी तक अपना ब्लॉग नही बनाये हो तो बना लीजिए. खासकर ब्लॉगिंग करने के लिए wordpress सबसे best option है. इसे आप एक बार use करेंगे तो दूसरे cms के बारे में सोचेंगे भी नही. जैसा कि आप देख सकते हो इसके use करने के फायदे बहुत है लेकिन नुकसान बहुत कम है।

उम्मीद करते हैं कि यह post आपको पसंद आता आया होगा. इससे सम्बन्धित सवाल पूछने के लिए comment करें. इस post को social media में share जरूर करें।

Like the post?

Also read more related articles on BloggingHindi.com Sharing Is Caring.. ♥️

Sharing Is Caring...

3 thoughts on “WordPress Use Karne Ke Fayde Aur Nuksan (Pros And Cons)”

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

×