विज्ञान के चमत्कार पर निबंध – Essay on Wonders of Science in Hindi

विज्ञान के चमत्कार पर निबंध 1 (200 शब्द)

प्रस्तावना

विज्ञान मानव जाति के लिए एक वरदान है। यह मनुष्य के अस्तित्व को सहज बनाता है। वैज्ञानिक जानकारी और ज्ञान ने मनुष्य को सशक्त बनाया है। खेती, संचार, चिकित्सा विज्ञान और लगभग हर क्षेत्र में मनुष्य का विज्ञान की समझ के साथ प्रचुर मात्रा में विकास हुआ है।

तो हम दैनिक जीवन में विज्ञान को कहाँ ढूंढ सकते हैं? आपको इसे ढूंढने की ज़रूरत नहीं है। यह हमेशा आपके आस-पास होता है। तो चलिए हम हमारे दैनिक जीवन में विज्ञान की खोज करें:

हमारे दैनिक जीवन में विज्ञान

  • कुकिंग – गर्मी के हस्तांतरण के लिए रेडिएशन, कंडकशन और कंवेकशन माध्यम हैं। इसलिए वे गर्मी ऊर्जा का हिस्सा हैं और जहां गर्मी है वहां भौतिकी है।
  • भोजन – जो भोजन हम खाते हैं वह केमिकल रिएक्शन के माध्यम से हमारे शरीर में चला जाता है जो शरीर को सारे दिन काम करने के लिए उर्जा देता है। यह जीव विज्ञान है।
  • वाहन – जिस प्रक्रिया के माध्यम से हमारे वाहनों जैसे कार आदि में पेट्रोल का जलना वह कमबशन कहलाता है। यह रसायन विज्ञान है।

घर का सामान

मिक्सर के उपकरण अपने ब्लेड को चालू करने और सामान को काटने के लिए केन्द्रापसारक बल का उपयोग करते हैं।
आविष्कारकों ने निष्कर्ष निकाला कि इलेक्ट्रॉन डेटा और ऑडियो को बहुत तेज़ी से ले जा सकते हैं इसलिए उन्हें टी.वी. का विचार आया। यह टी.वी. के पीछे मूल सिद्धांत है जो भौतिकी के विषय में निहित है।
रेफ्रिजरेटर में तरल पानी के चारों ओर बहने से गर्मी अवशोषित हो जाती है और तापमान कम हो जाता है। इसमें फिर से भौतिकी और रसायन विज्ञान शामिल हैं।

विज्ञान के चमत्कार पर निबंध 2 (300 शब्द)

प्रस्तावना

विज्ञान और इसके शानदार आविष्कार विभिन्न उद्योगों में क्रांति लाए हैं। इन आविष्कारों ने न केवल औद्योगिकीकरण में मदद की है बल्कि हमारे जीवन को आसान और आरामदायक बना दिया है। आइए जानें कि कैसे विज्ञान के चमत्कार ने हमारे दैनिक जीवन को बदल कर बेहतर कर दिया है।

विज्ञान के फायदे

कैसे विज्ञान ने हमारे जीवन को बदल दिया है?

  • खाद्य पदार्थों के संरक्षण और उन्हें स्वादिष्ट बनाने के नए तरीकों का भोजन प्रौद्योगिकी में अनुसंधान के माध्यम से आविष्कार किया जा रहा है।
  • प्लास्टिक और विभिन्न कृत्रिम आपूर्ति की एक विशाल विविधता बनाई गई है जिनके घर और उद्योग में सैकड़ों फ़ायदे हैं।
  • एंटीबायोटिक और टीकाकरण हमें संक्रामक बीमारियों और स्वास्थ्य समस्याओं से बचाते हैं।
  • आजकल शिशुओं में बीमारियों की कोई संभावना नहीं होती क्योंकि उनका जन्म अब विशेष कर्मचारियों की देखरेख में अस्पतालों में होता है। विज्ञान ने भावी जीवन बीमारियों से बचाव के लिए शिशुओं के लिए टीके का आविष्कार किया है।
  • सेनेटरी हालत में पहले की तुलना में काफी सुधार हुआ है।
  • ड्रेनेज प्रणाली का आधुनिकीकरण किया गया है।
  • जल प्रदूषण के कारण बीमारियों और अन्य बीमारियों पर काबू पाने के लिए छिद्रित और खनिज पानी उपलब्ध है।
  • परिवहन के साधनों में भी विशाल वृद्धि और परिवर्तन आएं हैं।
  • अंधविश्वासों को त्याग किया गया है और हर चीज के प्रति रवैया बदल गया है।
  • लोग अब नहीं मानते हैं कि बीमारियां बुरी आत्माओं के कारण होती हैं।
  • विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में अनुसंधान के कारण लोगों की सोच का दायरा बढ़ गया है, नतीजतन, वैज्ञानिक हमेशा नए मुद्दों, अन्वेषण, खोजों और आविष्कार करने की कोशिश करते हैं।

निष्कर्ष

हमारे रोजमर्रा के जीवन में विज्ञान की भूमिका महत्वपूर्ण है। विज्ञान के विभिन्न योगदानों ने हमारे अस्तित्व को अधिक आरामदायक और सहज बना दिया है। बिजली, पंखें, एयर कंडीशनर, टेलीविज़न, मोबाइल फोन, मोटर वाहन इत्यादि जैसे विज्ञान के शानदार आविष्कारों ने हमारे जीवन को और आसान बना दिया है और अब उन्हें इस्तेमाल किए बिना जीना लगभग असंभव है।

See also  मेरे पिता पर निबंध - Essay on My Father in Hindi

विज्ञान के चमत्कार पर निबंध 3 (400 शब्द)

प्रस्तावना

शुरुआती वक्त में मनुष्य एक जंगली की तरह रहता था। उसे नहीं पता था कि कैसे आग जलाई जाती है, कैसे खाना पकाया जाता है और कपड़े पहने जाते हैं। उन्हें यह भी पता नहीं था कि कैसे एक घर या झोपड़ी बनाई जाती है, कैसे बोला, पढ़ा या लिखा जाता है लेकिन धीरे-धीरे विज्ञान के उपयोग से उन्होंने एक महान सभ्यता विकसित की। हम जानते हैं कि विज्ञान ने हमें बहुत सारी चीजें दी हैं और हमारे जीवन को सहज बना दिया है। विज्ञान के सभी उपहार हैं लेकिन जैसा कि ऐसा कहा जाता है – प्रत्येक सिक्के के दो पक्ष है:

विज्ञान के नुकसान

विज्ञान ने कुछ आविष्कार किए हैं जो मानव जाति के लिए विनाशकारी साबित हुए हैं। मनुष्यों की भलाई के लिए इनका आविष्कार किया गया था लेकिन ये निम्नलिखित तरीकों से अभिशाप साबित हो रहे हैं:

प्रदूषण

औद्योगीकरण से प्रदूषण शुरू हुआ। उद्योग और वाहन प्रदूषण में प्रमुख योगदानकर्ता हैं। प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में आविष्कारों ने प्रदूषण में वृद्धि की है। जल, वायु और ध्वनि प्रदूषण – सभी मानव जाति के लिए खतरा हैं। यह इस प्रदूषण के ही कारण है कि हम ग्लोबल वार्मिंग जैसी प्रमुख समस्याओं का सामना कर रहे हैं और यह मानवता के लिए एक चुनौती बन गई है। कई हानिकारक और विषाक्त गैसों को उद्योगों द्वारा पर्यावरण में जारी किया जाता है। ये वातावरण को प्रदूषित करते हैं। जिस हवा में हम सांस लेते हैं वह बेहद प्रदूषित है और यही हवा विभिन्न रोगों का कारण बनती है। इन उद्योगों से निकला कचरा अक्सर नदियों और अन्य जल संसाधनों में फेंक दिया जाता है जो जल प्रदूषण को बढ़ावा देता है। जलीय प्रजातियों में गिरावट इस प्रदूषण का नतीजा है।

विनाशकारी हथियार

घातक और विनाशकारी हथियार भी विज्ञान का आविष्कार है। विज्ञान ने मानव जाति के लिए उच्च तकनीक पर आधारित औज़ार और हथियार दिए हैं। ये हथियार एक बटन को ट्रिगर करके दूर-दूर के स्थान पर बड़े पैमाने पर हत्या और विनाश फ़ैला सकते हैं। परमाणु बम, हाइड्रोजन बम, जहरीली गैसों, मिसाइल, रासायनिक युद्ध जैसे विज्ञान के विनाशकारी अनुप्रयोग सेकंडों के भीतर किसी भी बड़े शहर या देश के अस्तित्व को समाप्त कर सकते हैं। परमाणु ऊर्जा संयंत्र मानव जाति और पर्यावरण के लिए एक गंभीर खतरा है। भोपाल गैस त्रासदी, जो 1984 में हुई थी, ने हजारों लोगों की जान ली और कई लोगों को जहरीले गैस रिसाव के कारण स्थायी रूप से अक्षम कर दिया।

बेरोज़गारी

हाई-टेक मशीनरी के आविष्कार के साथ जो काम पहले बहुत समय लेता था शायद अब समय लेता है। आविष्कार ने बेशक हमारे जीवन को आसान बना दिया हो लेकिन साथ ही बेरोजगारी भी पैदा कर दी है औद्योगिकीकरण के कारण कम मानव बल की आवश्यकता पड़ती है क्योंकि सभी प्रमुख कार्य अब मशीनों द्वारा किए जा रहे हैं।

निष्कर्ष

विज्ञान जो वैज्ञानिक आविष्कारों और खोजों की वजह से पहले बहुत फायदेमंद होता था अब मानव जाति के लिए भयानक साबित हो रहा है। ऐसा लगता है कि वह समय बहुत दूर नहीं है जब पूरी मानव जाति को विज्ञान की बुराइयों के कारण दुख का सामना करना पड़ेगा। मनुष्य को बुद्धिमानी से वैज्ञानिक आविष्कारों का उपयोग करना चाहिए।

विज्ञान के चमत्कार पर निबंध 3 (400 शब्द)

प्रस्तावना

शुरुआती वक्त में मनुष्य एक जंगली की तरह रहता था। उसे नहीं पता था कि कैसे आग जलाई जाती है, कैसे खाना पकाया जाता है और कपड़े पहने जाते हैं। उन्हें यह भी पता नहीं था कि कैसे एक घर या झोपड़ी बनाई जाती है, कैसे बोला, पढ़ा या लिखा जाता है लेकिन धीरे-धीरे विज्ञान के उपयोग से उन्होंने एक महान सभ्यता विकसित की। हम जानते हैं कि विज्ञान ने हमें बहुत सारी चीजें दी हैं और हमारे जीवन को सहज बना दिया है। विज्ञान के सभी उपहार हैं लेकिन जैसा कि ऐसा कहा जाता है – प्रत्येक सिक्के के दो पक्ष है:

See also  ताजमहल पर निबंध - Essay on Taj Mahal in Hindi

विज्ञान के नुकसान

विज्ञान ने कुछ आविष्कार किए हैं जो मानव जाति के लिए विनाशकारी साबित हुए हैं। मनुष्यों की भलाई के लिए इनका आविष्कार किया गया था लेकिन ये निम्नलिखित तरीकों से अभिशाप साबित हो रहे हैं:

प्रदूषण

औद्योगीकरण से प्रदूषण शुरू हुआ। उद्योग और वाहन प्रदूषण में प्रमुख योगदानकर्ता हैं। प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में आविष्कारों ने प्रदूषण में वृद्धि की है। जल, वायु और ध्वनि प्रदूषण – सभी मानव जाति के लिए खतरा हैं। यह इस प्रदूषण के ही कारण है कि हम ग्लोबल वार्मिंग जैसी प्रमुख समस्याओं का सामना कर रहे हैं और यह मानवता के लिए एक चुनौती बन गई है। कई हानिकारक और विषाक्त गैसों को उद्योगों द्वारा पर्यावरण में जारी किया जाता है। ये वातावरण को प्रदूषित करते हैं। जिस हवा में हम सांस लेते हैं वह बेहद प्रदूषित है और यही हवा विभिन्न रोगों का कारण बनती है। इन उद्योगों से निकला कचरा अक्सर नदियों और अन्य जल संसाधनों में फेंक दिया जाता है जो जल प्रदूषण को बढ़ावा देता है। जलीय प्रजातियों में गिरावट इस प्रदूषण का नतीजा है।

विनाशकारी हथियार

घातक और विनाशकारी हथियार भी विज्ञान का आविष्कार है। विज्ञान ने मानव जाति के लिए उच्च तकनीक पर आधारित औज़ार और हथियार दिए हैं। ये हथियार एक बटन को ट्रिगर करके दूर-दूर के स्थान पर बड़े पैमाने पर हत्या और विनाश फ़ैला सकते हैं। परमाणु बम, हाइड्रोजन बम, जहरीली गैसों, मिसाइल, रासायनिक युद्ध जैसे विज्ञान के विनाशकारी अनुप्रयोग सेकंडों के भीतर किसी भी बड़े शहर या देश के अस्तित्व को समाप्त कर सकते हैं। परमाणु ऊर्जा संयंत्र मानव जाति और पर्यावरण के लिए एक गंभीर खतरा है। भोपाल गैस त्रासदी, जो 1984 में हुई थी, ने हजारों लोगों की जान ली और कई लोगों को जहरीले गैस रिसाव के कारण स्थायी रूप से अक्षम कर दिया।

बेरोज़गारी

हाई-टेक मशीनरी के आविष्कार के साथ जो काम पहले बहुत समय लेता था शायद अब समय लेता है। आविष्कार ने बेशक हमारे जीवन को आसान बना दिया हो लेकिन साथ ही बेरोजगारी भी पैदा कर दी है औद्योगिकीकरण के कारण कम मानव बल की आवश्यकता पड़ती है क्योंकि सभी प्रमुख कार्य अब मशीनों द्वारा किए जा रहे हैं।

निष्कर्ष

विज्ञान जो वैज्ञानिक आविष्कारों और खोजों की वजह से पहले बहुत फायदेमंद होता था अब मानव जाति के लिए भयानक साबित हो रहा है। ऐसा लगता है कि वह समय बहुत दूर नहीं है जब पूरी मानव जाति को विज्ञान की बुराइयों के कारण दुख का सामना करना पड़ेगा। मनुष्य को बुद्धिमानी से वैज्ञानिक आविष्कारों का उपयोग करना चाहिए।

विज्ञान के चमत्कार पर निबंध 5 (600 शब्द)

प्रस्तावना

विज्ञान एक साधारण पेन से लेकर पेपर प्रिंटिंग मशीन तक, हवाई जहाज से लेकर अंतरिक्ष शटल तक हर जगह है। विज्ञान हमारे दैनिक जीवन का अभिन्न अंग है। विज्ञान ने अपनी आविष्कारों के साथ हमारा जीवन आसान और सहज बना दिया है। विज्ञान ने जीवन के हर क्षेत्र को बदल दिया है। असंभव बातें अब संभव हो गई हैं।

विज्ञान के उपहार

हमारी रोजमर्रा की जिंदगी में हम हजारों चीजों का इस्तेमाल करते हैं जो विज्ञान का उपहार हैं। यहाँ इनमें से कुछ पर एक नज़र डाली गई है:

  • विद्युत – बिजली के आविष्कार से मानव सभ्यता के लिए एक अविश्वसनीय परिवर्तन आया है। बिजली वाहनों, भारी मशीनरी, उद्योग या अन्य भारी वैगनों में मदद करती है। एयर कंडीशनर, बिजली के पंखे, बिजली के हीटर, रोशनी ने हमारे जीवन को और अधिक आरामदायक बना दिया है। असल में सभी वैज्ञानिक प्रौद्योगिकियां बिजली पर निर्भर करती हैं।
  • चिकित्सा और शल्य चिकित्सा – विज्ञान ने अद्भुत दवाएं बनाई हैं जो हमें तत्काल राहत दे रही हैं। विज्ञान ने कई खतरनाक और घातक रोगों को दूर करने में मदद की है। विभिन्न टीकाकरण और दवाइयों की विभिन्न रोगों से लोगों को बचाने के लिए खोज की गई हैं। अब शल्य चिकित्सा द्वारा मानव शरीर के लगभग हर हिस्से को प्रत्यारोपित किया जा सकता है। विज्ञान हमें देखने के लिए आँखें, सुनने के लिए कान और चलने के लिए पैर दे सकता है। वैज्ञानिक सर्जरी के लिए नए और बेहतर तरीकों का आविष्कार किया जा रहा है। मेडिकल साइंस में अविश्वसनीय सुधार आया है। रक्त आधान और अंग प्रत्यारोपण अब संभव है। एक्स-रे, अल्ट्रासोनोग्राफी, ईसीजी, एमआरआई, पेनिसिलिन आदि के आविष्कार ने समस्याओं के निदान को बहुत आसान बना दिया है।
  • यात्रा और परिवहन – विज्ञान ने हमारी यात्रा तेज और आरामदायक बना दी है। हम कुछ घंटों के भीतर दुनिया के किसी भी हिस्से तक पहुंच सकते हैं। हम बसों, कारों, ट्रेनों, हवाई जहाजों, पानी के जहाजों और अन्य वाहनों से यात्रा कर सकते हैं। वे न केवल हमें ले जाते हैं बल्कि सामानों और सामग्रियों को दूर स्थानों तक तेजी से और सुरक्षित रूप से पहुंचा भी सकते हैं।
  • संचार – विज्ञान ने संचार के रास्ते महान बदलाव लाया है। अब वो समय नहीं है जब हमें हमारे पत्र के उत्तर के लिए लंबे समय तक इंतजार करना पड़ता है। यह वह समय है जब हम अपने रिश्तेदारों से बात कर सकते हैं भले ही वे बहुत दूर रहते हो। हम उनसे बात कर सकते हैं और उन्हें हमारे मोबाइल फोन पर देख भी सकते हैं। हम उनसे दुनिया के किसी भी हिस्से से संपर्क कर सकते हैं। मोबाइल और इंटरनेट ने लोगों के बीच की दूरी को कम करने में मदद की है।
  • कृषि – विज्ञान किसानों के लिए एक वास्तविक दोस्त साबित हुआ है। कई आविष्कारों और खोजों ने किसानों को अच्छी गुणवत्ता वाली फसल विकसित करने में मदद की है। फसल काटने की मशीन, ट्रैक्टर, खनीज और अच्छी गुणवत्ता वाले बीज किसानों के लिए विज्ञान का उपहार हैं। डेयरी कारोबार में मशीनरी के प्रकार अपने व्यवसाय को विकसित करने में मदद कर रहे हैं। विज्ञान ने उनके जीवन शैली में सुधार किया है।
  • मनोरंजन – मनोरंजन विज्ञान के पहले साधन ने हमें रेडियो दिया है। लोग इसे गाने और समाचार सुनने के लिए इस्तेमाल करते थे लेकिन अब विज्ञान ने मनोरंजन के क्षेत्र में अपने नए आविष्कारों से हमें आश्चर्यचकित कर दिया है। अब हम अपने मोबाइल पर टी.वी. देख सकते हैं। हम हर जगह लाइव प्रसारण देख सकते हैं। हम मोबाइल, टी वी और कंप्यूटर पर वीडियो भी देख सकते हैं। इनके बिना हम हमारी ज़िंदगी की कल्पना भी नहीं कर सकते।
  • शिक्षा और उद्योग – विज्ञान ने हमारी शिक्षा और व्यापार क्षेत्र में शहरीकरण किया है। प्रिंटिंग, टाइपिंग, बाइंडिंग आदि खोजों ने हमारी शिक्षा प्रणाली को बढ़ावा दिया है। इसी प्रकार भारी औद्योगिक मशीनरी के आविष्कार जैसे सुई, कैंची और सिलाई मशीन के आविष्कार से औद्योगिक क्षेत्र में आश्चर्यजनक उन्नति हुई है।
See also  लाल किला पर निबंध - Essay on Red Fort in Hindi

निष्कर्ष

विज्ञान ने हमें विभिन्न उपहार दिए हैं लेकिन इसका उपयोग मनुष्यों को नुकसान पहुंचाने के लिए भी किया जा सकता है। उसने हमें राइफल्स और साथ ही बुलेट प्रूफ जैकेट दिया है। यह हम पर निर्भर करता है कि हम कैसे विज्ञान का उपयोग करते हैं – मानवता के कल्याण के लिए या मानवता के विनाश के लिए। हमें अपनी जीवन शैली को अच्छा बनाने और सुविधाजनक बनाने के लिए विज्ञान का उपयोग करना चाहिए बजाए किसी को दुःख देने के। हिंसा को रोकिए और हर जगह खुशी का प्रसार करें।

Like the post?

Also read more related articles on BloggingHindi.com Sharing Is Caring.. ♥️

Sharing Is Caring...

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

×