सरकारी शिक्षक कैसे बनें? Government Teacher बनने की जानकारी

Sarkari Teacher Kaise Bane? Government Tearcher Banne Ke Liye Kya Kya Eligibility Chahiye? इस पोस्ट में आज हम आपको इन्ही प्रश्नों के उत्तर देने वाले हैं. तो अगर आपको भी अध्यापक बनना है तो इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढिये. इसमे में आपको टीचर बनने के बारे में पूरी प्रक्रिया बताने वाला हूँ।
teacher kaise bane-min

Government Teacher Kaise Bane? In Hindi

आप सभी को पता होगा कि हमारे समाज मे किसी भी सरकारी नौकरी वाले को बहुत सम्मान दिया जाता है. दरअसल ये हमारे समाज की मेंटिलिटी बन गयी है कि जिनके पास सरकारी नौकरी है सिर्फ वो ही अच्छे पैसे कमा सकते हैं. आप कही भी गए और बोल दिए कि आप सरकारी शिक्षक या कोई दूसरा सरकारी अफसर हो तो आपको वहाँ पर बहुत सम्मान मिलेगा।
कुछ बच्चे ऐसे होते हैं जो आगे चलकर एक अच्छा टीचर बनना चाहता है और समाज को बेहतर बनाने में अपना योगदान देना चाहते हैं. कुछ लोगों को शुरू से ही टीचिंग का शौक होता है. मतलब उन्हें दूसरे बच्चों को समझाने में मजा आता है तो उनके लिए भी टीचिंग की फील्ड काफी बेहतर हो सकती है।
टीचिंग के भी कई सारे फील्ड होते हैं. कुछ लोग प्राइमरी टीचर होते हैं, कुछ लोग प्रोफेसर होते है, और कुछ लोग लेक्चरर होते हैं जो कॉलेज में लेक्चर देता है. तो आज में आपको सरकारी टीचर बनने के बारे में जानकारी देने वाला हूँ।
हर कोई एक सरकारी टीचर बनना चाहता है लेकिन इसके बारे में किसी को भी पता नही होता है कि सरकारी शिक्षक बनने के लिए क्या क्या चाहिए. इन सब के बारे में अगर शुरू से ही पता रहेगा तो और भी आसानी होगी. क्योंकि आप सभी जानते ही हो कि अभी के समय मे हर चीज में कम्पटीशन बढ़ता जा रहा है.
दोस्तों आज के पोस्ट में हम जानने वाले हैं कि सरकारी टीचर कैसे बनें? अगर आपको इसके बारे में विस्तार से जानना है तो नीचे विस्तार से पढ़ें. तो चलिए ज्यादा समय नही लेते हुए इसके बारे में जानते हैं।
See also  District Magistrate (DM) कैसे बने? कलेक्टर बनने की जानकारी

How to be a Government Teacher? सरकारी शिक्षक कैसे बनें?

दोस्तों में आपको सरकारी शिक्षक बनने के बारे में नीचे प्रोसेस बता रहा हूँ। आप किस तरह से सरकारी स्कूल में नौकरी ले सकते हो, चलिए जानते हैं।

1. 12th पास करें

एक शिक्षक या फिर प्रोफेसर बनने के लिए सबसे पहले आपको 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण करने करना होगा. अब सवाल ये आता है कि 12वीं क्लास में कौन सा विषय रखें? तो इसके लिए आपको जिस सब्जेक्ट में interest हो और आप जिस subject का टीचर बनना चाहते हो वही subject 12वीं क्लास में लें।
उदाहरण के लिए अगर आपको maths पढ़ने और पढ़ाने में मज़ा आता है, और आगे चलकर आप बच्चों को maths पढ़ाना चाहते हो तो आपको science में maths रखना चाहिए।
उसके अलावे आपको बता दें कि 12वीं कक्षा में जितना हो सके मेहनत करके पढ़ें. इसका मार्क आगे चलकर आपके लिए बहुत ज्यादा उपयोगी हो जाएगा. चूंकि में अक्सर बच्चों को देखता हूँ कि वो 10वीं में बहुत अच्छा करते हैं लेकिन 12वीं में मन से नही पढ़ते हैं. जिससे काफी पीछे हो जाते हैं. इसलिए 12वीं में जितना हो सके अच्छे से मेहनत कीजिये और अच्छा अंक प्राप्त कीजिये।

2. ग्रेजुएशन और B.ED करें

12th पास करने के बाद शिक्षक बनने के लिए आगे कि पढ़ाई करने पड़ते हैं. 12 वीं के बाद आपको ग्रेजुएट करना होगा. जिसमें आपको लगभग 2 साल लग जाएंगे. ग्रेजुएशन उसी subject के साथ करें, जिस subject में आप स्कूल में पढ़ाना चाहते हो।
ग्रेजुएशन पूरी होने के बाद B.ED course के लिए अप्लाई करना होगा. पहले इस कोर्स में सिर्फ एक साल लगता था लेकिन 2015 के बाद इसका कोर्स 2 साल का हो गया है. स्कूल टीचर बनने के लिए यह कोर्स बहुत फायदेमंद हो सकता है. इसके लिए आपको ग्रेजुएशन में कम से कम 50% मार्क्स आना चाहिए.
B.ED टीचिंग से सम्बंधित एक कोर्स है, जिसको करने के बाद किसी भी सीनियर सेकेंडरी स्कूल में वेकैंसी रहने पर आप पढ़ा सकते हो।

3. TET या CTET क्लियर करें

जब आप B.ED कोर्स पूरा कर लेते हो तो उसके बाद सबसे आखिर में आपको TET (Teacher Eligibility Test)  या CTET की परीक्षा को पास करना होता है. चलिए इन दोनों परीक्षाओं के बारे में विस्तार से जान लेते हैं।
CTET: यह एग्जाम हर साल Central board of secondary education के द्वारा organize किया जाता है. इस एग्जाम को पास करने के बाद आपका सरकारी टीचर बनने का सपना सच हो जाता है. इस परीक्षा को देने के लिए 12वीं या graduate में कम से कम 50% मार्क आना अनिवार्य है. यह परीक्षा दो भागों में होती है। पेपर 1 और पेपर 2।  1 से 5 कक्षा तक के बच्चों को पढ़ाने के लिए पेपर 1 और 6 से 10 कक्षा तक के बच्चों के लिए पेपर 2 की तैयारी करनी होगी।
TET: TET यानी Teacher Eligibility Test यह एग्जाम हर साल सेंट्रल सरकार तथा राज्य सरकार द्वारा आयोजित की जाती है. इस परीक्षा को देने के लिए 12वी अथवा ग्रेजुएट में 50% होना अनिवार्य है. 12वी तथा ग्रेजुएट होने के साथ जिन लोगों ने B.ED या B.T.C पास की है, वे लोग ही ये परीक्षा दे सकते हैं। इसमे भी दो पेपर में एग्जाम होता है. कक्षा 1 से 5 तक पढ़ाने के लिए पेपर 1 और 6 से 10 तक के लिए पेपर 2 देना होता है. अगर किसी को 1 से 10 कक्षा तक पढ़ाना है तो दोनों पेपर दे सकता है।
See also  Ethical Hacker कैसे बने? Ethical Hacking Course की पूरी जानकारी

सरकारी शिक्षक की वेतन कितनी होती है?

School teacher बनने के बारे में जानने के बाद आप सभी के मन मे यह प्रश्न जरूर आया होगा कि एक सरकारी शिक्षक की सैलरी कितनी होती है? तो चलिए अब हम इसके बारे में भी जान लेते हैं।
सरकारी टीचर को नौकरी मिलने के बाद शुरू में 15 से 25 हजार तक मिलता है. फिर धीरे धीरे उनका वेतन बढ़ाते जाता है. फिर बाद में उनका सैलरी 18 हजार से लेकर 48 हजार तक हो सकता है।
अगर हम हाई स्कूल के टीचर की बात करें तो उन्हें 35 हजार से लेकर 70 हजार तक मिलता है. यह में अपने राज्य बिहार की बात कर रहा हूँ. वैसे हर राज्य में लगभग same ही होते हैं।
निष्कर्ष,
तो दोस्तों इस तरह से आप बहुत आसानी से सरकारी शिक्षक बन सकते हो. हमने आपको government teacher बनने के पूरी प्रक्रिया के बारे में आपको विस्तार से बताया. जिन्हें आप आसानी से समझ भी गए होंगे.
इसके अलावा हमने आपको सरकारी शिक्षक की सैलरी के बारे में भी बताया. जिससे आप समझ गए होंगे कि सरकारी शिक्षक कितना कमा सकता है।
तो दोस्तों अगर आपको यह पोस्ट पढ़ने के बाद अच्छा लगा हो तो इसको अपने दोस्तों के साथ share जरूर करें. इससे हमारा मनोबल होगा और हम इसी तरह की उपयोगी जानकारी आपके साथ शेयर करते रहेंगे.
अगर आपको किसी तरह का सवाल पूछना हो तो नीचे कमेंट जरूर करें. इसी तरह के पोस्ट पढ़ते रहने के लिए हमारे ब्लॉग में विजिट करते रहिए।

Like the post?

Also read more related articles on BloggingHindi.com Sharing Is Caring.. ♥️

Sharing Is Caring...

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

×