Blog Ke Liye Lightweight Theme Design Karne Ki 5 Jaruri Tips

Hello friends, किसी भी site की loading speed उसकी theme या template पर सबसे ज्यादा निर्भर करता था. अभी आपको हर type के थीम मिल जाएगा. कुछ थीम lightweight के होते हैं जो fast load होते हैं और कुछ theme बहुत slow होते हैं. अगर आप अपने theme की design खुद से करना चाहते हो तो यह post आपके लिए important होगा. हम आपको यहाँ पर बताने वाले हैं कि Lightweight Theme/Template Design करने के लिए 5 Important Tips.
5 tips for design lightweight template theme

Google अपने SEO terms में काफी changes लाते जा रहे हैं. पिछले साल Google ने Mobile First Index के बारे में announce किया था, जिसके बाद से mobile friendly साइट की ranking factor बन गया था. जिन लोगों का ब्लॉग mobile में ठीक से open नही हो पाता था, उन्होंने optimization करके mobile friendly बनाया.

अभी हाल ही में Google ने announcement किया है कि site loading speed अब Google का ranking factor होने वाला है. पिछले साल mobile friendly को Google ranking factor में लाया गया था और इस साल site loading speed को. इसलिए अभी आपको अपने site की loading speed पर ध्यान देना होगा.

यदि आपने Google Search Confrence में attend किया होगा तो वहाँ पर आपको इसके बारे में बताया होगा कि कुछ समय बाद Site Loading speed Google ranking factor में आ जायेगा. उसके बाद यदि आपका site slow load होगा तो search engine में उसे better rank नही मिल पायेगा.

Well, अब ये confirm हो गया है कि search engine में अच्छी ranking के लिए site की loading speed अच्छी होना बहुत important है. यदि आपका site कम समय मे load हो जाता है तो अच्छी बात है. लेकिन यदि slow load होता हो तो आपको इसपर care करने की जरूरत होगी. क्योंकि इससे आपके site की Google ranking पर बहुत बुरा effect पड़ेगा।

जैसे कि मैने आपको पहले भी बताया कि ब्लॉग की loading speed बहुत से चीजों पर depend करता है लेकिन मेरे experience के हिसाब से, सबसे ज्यादा Theme और Hosting पर करता है. अगर आप सही hosting और theme का उपयोग करेंगे तो I sure, आपकी site कम से कम समय मे load होगी. अगर आपकी site slow load होती है तो इसका सबसे बड़ा कारण theme और hosting होगा।

खैर, अभी के समय मे बहुत सारे hosting provider होंगे जो cheap rate में better से better hosting provide करेंगे. हर कोई चाहता है कि वो अपने users को better से better service provide करें. इसलिए आपको अच्छी hosting आसानी मिल जाएगी लेकिन ब्लॉग के लिए perfect और better speed वाली theme मिलना थोड़ा मुश्किल हो जाएगी।

In my case, में अपने site में बहुत सारे theme use कर चुका हूँ. अगर किसी theme की loading speed ठीक होती थी तो उसकी design अच्छी नही होती और किसी की design अच्छी होती तो loading speed अच्छी नही होती. इसलिए मुझे कोई भी perfect theme नही मिल रहा था. उसके बाद मेने Genesis use करना start किया. शुरू में मैने Genesis developers द्वारा बनाये गए child theme ही use किये थे.

See also  WordPress Ke Text Widget Me PHP Kaise Use Kare

लेकिन धीरे धीरे experience होने के लिए custom child theme बनाया. I hope अभी मेरे ब्लॉग में जो theme use हो रही है, आपको पसंद आया होगा. इस theme को मैने एक दिन में design नही किया है बल्कि इसे बनाने में मुझे 6 महीने लगे हैं. इससे पहले जो child theme थी, उसी में थोड़ा बहुत changing और optimization किया गया है। अभी आप मेरे site की loading speed report देख सकते हो।

इसी तरह आप भी एक lightweight theme design कर सकते हो. बस इसके लिए आपको coding की knowledge चाहिए. उसके बाद आप अपने से site को better से better look दे सकते हो, उसके साथ साथ fast loading भी बना सकते हो. I know, अगर आप new wordpress user हो तो आपको बहुत सी चीजें समझ मे नही आती होगी. लेकिन जब आप अपने से design करने की कोशिश करते रहेंगे तो धीरे धीरे अपने आप आपको experience हो जाएगा।

खैर, हम इस post में बात करने वाले हैं, ब्लॉग के लुए lightweight theme design करने के लिए 5 जरूरी टिप्स। जिससे अगर आप अपने site को अपने से design करना चाहते हो तो यह आपके लिए बहुत helpful होगा. हमारे साथ last तक बने रहिये और अगर आपको कही समझ मे नही सये तो comment में सवाल पूछ सकते हो।

How to Design a Lightweight Theme/Template in Hindi?

1. Use Fewer Fonts:

में जनता हूँ कि ब्लॉग को अच्छा look देने के लिए font बहुत मत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. लेकिन ब्लॉग में ज्यादा font से ब्लॉग की design और भी बेकार हो जाता है और साथ ही loading speed भी slow हो जाती है. ब्लॉग के लिए अलग अलग stylish font use करने से readers को समझने में भी problem होती है.

आप किसी भी बड़े बड़े ब्लॉग में देखेंगे तो वहाँ कम से कम और simple font का use होता है. क्योंकि वो जानते हैं कि ब्लॉग में ज्यादा font use करने से कोई फायदा नही होता है. इसलिए में भी आपको suggest करूँगा की 1 या 2 font use करें. और ध्यान रहे font simple ही better होगा और lightweight भी होना चाहिए.

जब आप एक से अधिक Google fonts को site में load कर रहे होते हो तो ज्यादा http request create कर देते हो. इससे site loading पर bad effect पड़ता है. जैसे हम यहाँ 3 अलग अलग fonts load कर रहे हैं तो कुछ इस तरह का html अपने site की head area में add करते हैं।

<link href='https://fonts.googleapis.com/css?family=Noto+Sans' rel='stylesheet'/>
<link href='https://fonts.googleapis.com/css?family=Oswald' rel='stylesheet'/>
<link href='https://fonts.googleapis.com/css?family=Fauna+One' rel='stylesheet'/>

आप देख सकते हो कि मैने ऊपर में 3 fonts load करने के लिए 3 बार link add किया है, जिससे 3 http request बन गया है. आपको पता है कि ज्यादा http request होने से site slow load होती है। इसलिए हमें हमेशा कोशिश करना चाहिए कि कम से कम https request generate करें. इन तीनों fonts को हम एक http request में भी एक साथ load कर सकते हैं. इसके लिए हमें कुछ इस तरह का html code अपने site की head में add करना होगा।

<link href='https://fonts.googleapis.com/css?family=Noto+Sans|Oswald|Fauna+One' rel='stylesheet'/>

इस तरह से आप बहुत सारे fonts को एक ही http request में load कर सकते हो. इससे आपका site fast load होगा. अगर आप multi fonts use करते हो तो में आपको suggest करूँगा की इसी तरह से सारे fonts load करें।

See also  Blogger Me Syntax Highlighter Add Karke Post Me Code Kaise Dikhaye

2. Use Fewer Image – And Do Not, Without Compressing!

ब्लॉग को ज्यादा बेहतर look देने के लिए हर कोई अपने ब्लॉग में image का use करता है. जब हम अपने ब्लॉग में image use करते हैं तो कोई हमारे ब्लॉग में visit करते हैं तो server से image load होने में भी time लगता है. इससे हमारा site load होने में ज्यादा time ले लेता है।

बहुत से लोग अपने site को design करते समय background में high quality image का use करते हैं. उन्हें पता होना चाहिए कि यह उसके site loading speed को बहुत धीमा बना सकता है. इसलिए जब भी अपने साइट को डिज़ाइन करते हो तो image का कम से कम प्रयोग किया कीजिए।

जब भी कोई image का use करना चाहते हो तो उसे बिना compress किये use नही करें. क्योंकि जब आप कोई image create करते हो तो उसकी size बहुत अधिक होती है. इसे compress करके आप बिना image quality खोये size reduce कर सकते हो. इसके लिए आप online tool या App/software का इस्तेमाल कर सकते हो। शायद यह post आपके लिए helpful होगी। Image Ko Compress Karke Size Kam Kare – Offline Aur Online Dono Tarike

3. Keep the JavaScripts at the Bottom:

आप जानते होंगे होंगे कि javascript बहुत ज्यादा slow load होने वाली coding है. अभी आप इंटरनेट से कोई भी free theme/template download करेंगे तो उसमें बहुत सारे javascripts होंगे. इसका use करेंगे तो आपका site बहुत slow load होने लगेगा।

इसलिए हम आपको यही recommend करेंगे कि यदि आप custom design कर या करवा रहे हो तो javascript का कम से कम करने की कोशिश करें. अपने ब्लॉग में कम से कम javascript widgets का use करें.

इसके अलावा अगर आप कुछ javascripts का use कर रहे हो तो उसे अपने site की footer में load कीजिए. क्योंकि javascript का पहले load होना important नही है. इसीलिए इसे header में नही बल्कि footer में load कीजिए. इससे आपके site की loading पर कम effect पड़ेगा।

4. Add async in js load files:

जैसे कि मैने पहले भी बताया कि सबसे पहले इस बात का ध्यान रखें कि js files को footer में load करना है. उसके बाद आप js files में async का attribute add करके उसे content load होने के बाद load करा सकते हो।

See also  Blogspot me Image Ko Fastly Loading kaise Banaye  [Super Trick]

जब आप javascript file load होने के लिए defer या async method का use करोगे तो पहले आपके site की content load होगी, उसके बाद javascript load होगा. चलिए इसके बारे में जानते हैं।

हम javascript को html द्वारा कुछ इस तरह से load करते हैं।

<script type='text/JavaScript'  src='http://abc.com/def.js'/>

अब इसमें आपको src से पहले async add कर देना है. उसके बाद कुछ इस तरह का हो जाएगा।

<script type='text/JavaScript' async src='http://abc.com/def.js'/>

इस तरह से आप slow load होने वाली javascript files को defer करके content loading होने के बाद उसे load कर सकते हो और अपने site loading speed को पहले से ज्यादा fast बना सकते हो।

5. Compress CSS, JavaScript, HTML

जब आप अपने हिसाब से थीम design करके ready कर लेंगे तो आपका last काम यह होगा कि उसमें javascript और CSS को compress करना होगा. Normally, थीम के css और javascript का जितना size होता है, compress करने के बाद 20% से 40% तक save कर सकते हो।

In my case, में अपने ब्लॉग के सभी js और css files को compress करके रखता हूँ. इससे उसकी size काफी reduce हो जाती है और site की loading speed fast हो जाती है. अगर आप भी अपने theme को lightweight बनाना चाहते हो तो में आपको personally recommend करूँगा की ब्लॉग में css और javascript जैसे files को compress करके रखिये।

आप कई सारे मेथड से css, javascripts files को compress कर सकते हो. इसे आप manually बिना plugin के भी कर सकते हो. लेकिन में इसके लिए plugin use करता हूँ, जिसका नाम Autoptimize है. इसको use करके आप easily अपने ब्लॉग में css और javascripts files को compress कर सकते हो. इसके लिए मेने article भी लिखी है, जो आपके काम आ सकता है। WordPress Site Ki HTML, CSS Aur JavaScript Ko Minify Karke Speed Badhaye

Final Words,
तो दोस्तों अगर आप अपने site को light weight design करना चाहते हो तो इन पाँचों points पर focus कीजिए. इसके अलावा में आपको ये भी कहना चाहूंगा कि simplicity पर ध्यान दीजिए. जितना simple होगा उतना ही lightweight होगा हर जितना lightweight होगा,उतना ही fast loading होगा. आप किसी भी professional blogger की ब्लॉग देखेंगे तो उसकी design बिल्कुल simple होती है. इसलिए में आपको simple design की ही सलाह दूँगा।


उम्मीद करते हैं कि आपको यह post पढ़कर अच्छा लगा होगा. अगर आपके मन मे कोई प्रश्न है तो कृपया नीचे comment करके बताये. बाकी post अच्छा लगे तो share बटन पर click करके मित्रों के साथ share कर दीजिए।

Like the post?

Also read more related articles on BloggingHindi.com Sharing Is Caring.. ♥️

Sharing Is Caring...

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

×